खोजें

FUNNY JOKES

THIS BLOG IS CREATED FOR FUN AND HOW TO MAKE MONEY FROM INTERNET

माह

जनवरी 2016

मोटी का वेट

16 - 1 (2)

पत्नी जी , गणतंत्र दिवस पर फ्री शोपिंग का आनंद ले रही थी ! हंसमुखी पति बाहर अपना मोबाइल लेकर फेसबुक और व्हाट्सएप अपडेट कर रहे थे ! तभी मोबाइल बजा और पत्नी जी का मधुर स्वर सुनाई दिया ” सुनो , हो गयी ….क्या कर रहे थे ?
पति : कुछ नहीं , मोटीवेट कर रहा था !
पत्नी ( सारे शॉपिंग बेग फेंक कर , गुस्से में ) : – अच्छा तुम मुझे मोटी कह रहे हो और वेट कर रहे थे , यही कहना चाह रहे थे ?

नोट :- भाई , आप लोग समझाओ अपनी भाभी को , मोटिवेट करना और मोटी का वेट करने में क्या फर्क है ?

http://www.hansmukhiji.com/2016/01/blog-post_49.html

वेब साईट ?

funny-cute-spider-web-pun

आज पत्नी जी की सुंदर, सलौनी, सहेली ने हमारा भेजा चटका दिया ?  हम किचन में कुछ खाने के लिए सूंघ रहे थे कि पत्नी जी ने ड्राइंग रूम  से बैठे – बैठे अपनी चोंच खोली ” क्या कर रहे हैं , जी ? (  आपको बता दें , कि हमारी वेब साईट http://www.hansmukhiji.com बन रही है ) , हमने बहाना बनाया :-  कुछ नहीं ” वेब ” बना रहे हैं ! सहेली ने सुनते ही तड़का लगाया और बोली , भाईसाब उसके साथ पकौड़े भी बना लेना , ये सुनते ही  हमारा दिमाग आठवें आसमान पर पहुंचा और हमने अपना मोबाइल दिखाते हुए , सहेली जी से कहा :-  भाभी जी , इसमें वेब डिज़ाइन कर रहे हैं  !
वे चहकती हुयी बोली , अच्छा तो , फिर एक दो अच्छी डिज़ाइन हमें भी बता दीजिये , इनका स्वेटर उधड़ गया है !
अब हम बेहोश हैं ? शायद आपको दया आ जाए ?

हिंगलिश ?

funny-whatsapp-shayari-pic

हिंदी में इंग्लिश चेम्पने का हंसमुखी प्रयास ! ( एक ही बात को दोनों ( हिंदी + “अंग्रेजी” ) शब्दों में जबरन ठूंसा है , ” अंग्रेजी ” शब्दों को ) अगर ….समय हो…. तो ही पकियेगा !!!
आरम्भ की “इस्टार्टिंग” से ले के आख़िरी की “फिनिश” तक पढ़ कर टपकियेगा ?
ये ” आप ” को समझाना बहुत “इजी” आसान है। लेकिन फिर भी, “आल टू आल” सब भेजे के ” माइंड ” में आये , इसलिए ध्यान देना ज्यादा “बेटर” रहेगा।
अब तीन लोग “ट्रिपल” निकल लेते हैं। अकेली ” सिंगल ” लेडीज़ को घूरते हैं। वो तेज “फास्ट” चलती है । पहले “फर्स्ट” बाजार में पहुँच कर ठंडा “कोल्ड ड्रिंक ” पीती है। “आर्डर” बोलती है , भैय्या , एक गिल्लास आम का “मैंगो जूस” देना जरा । दुकानवाला “बिल” की पर्ची , “रिटन” में लिखकर देता है। लड़की वापसी में “रिटर्न” जल्दी से आती है। उसके घर के आगे, सामने वाली “फ्रंट साइड” में गाड़ी खड़ी रहती है। दाहिने हाथ पर “राइट साइट” में उसके पप्पा ” डेड ” खड़े हैं। उसके घर के बाहर “आउटडोर”, अंदर “इनडोर”, और जमीन के अंदर, “अंडर-ग्राउंड बेसमेंट” के नीचे पाताल है।
वो गोल “राउंड” लगाती हैं। बीचम बीच में “सेंटर” मिलाती हुई सीधी “स्ट्रैट लाइन” में चलती है । “संडे” रविवार के रोज दोपहर में “लंच” और रात को “डिनर” करती है । हल्का “लाइट” ही खाती है । “लास्टम लास्ट” वाली आखरी लाइन में बैठने की “सीट” पर ही बैठती हैं। वो भी सबेरे-सबेरे “अर्ली मॉर्निंग वॉक” घूमने जाती है इसलिए तो दिन-भर ताजा “फ्रेश” रहती है । हवाई जहाज में बैठकर ऊपर से “बाय-एयर” बंबई जा रही है । ” आप ” भी “आउट ऑफ़ स्टेशन” बाहर गांव घूम आओ। वहां “वैकेन्सी” खाली रहती हैं ।

यदि लिखने में गलती से “मिस्टेक” हो गई हो, तो “सॉरी” माफ़ करना भाई ।
लेकिन हलके पतले में “लाइट” ले लेना । नहीं तो पक कर टपक जायेंगे ???

सोशल साड़ी ?

Apple-Whatsapp-Facebook-Saree.jpg

पहली :- आज रात को तीन बजे अचानक ?
.
पड़ोसन ने जोर से दरवाजा खटखटाया !
.

दूसरी :- अच्छा ! फिर तो तुम्हारी नींद उचट गयी होगी ?
..
.
पहली :- वो तो भला हो , फेसबुक  का जिसने हमारी ” नींद ” , को आने ही न दिया ?

दूसरी :- लेकिन इतनी रात को पड़ोसन क्या करने आई  थी ??

पहली :- यही पूछने आई थी कि कल कौन सी साड़ी पहन लूँ ? याहू , एप्पल , फेसबुक , व्हाट्सऐप या ट्विटर वाली ?

दूसरी :- तुम्हारे हंसमुखी पति कुछ नहीं कहते ये सब पागलपंती के लिए ??

पहली :- लो कर लो बात ! अरे पगली , वही तो रात भर कंप्यूटर पर बैठ कर प्रिंट सेलेक्ट करते हैं ?

दूसरी , अभी भी बेहोश है !!!

समझदार पप्पू ?

received_803749586371951

पप्पू ( हंसमुखी चेनल के पत्रकार से ) :- भाइयों , 2016 से साल में सिर्फ 11 महीने ही होंगे ?
पत्रकार :- ऐसा , कैसे हो सकता है ? पप्पू जी !
पप्पू :- वो इसलिये क्योंकि हम मार्च निकाल रहे हैं !!!

पत्रकार बेहोश है ?

ईनाम ?

received_1551185768470320

खुश खबर यह है कि हम आज वन डे तो जीत गए , परन्तु यहाँ कोई एडमिन की गाड़ी चुराकर ले गया है ???

बड़ी मुश्किल से लेपटोप  में , सम्हाल कर रखा गया फ़ोटो अपलोड किया है !

फेसबुक और व्हाट्सएप के सभी ग्रुपों में जल्दी से जल्दी , शेयर कीजिये ?

इसका नम्बर न पूछिए “चोरी”  की नहीं है  ?, प्रजाति ( LML = ले मत लेना )  ! रंग = गोरा !

जिस किसी को सपड जाए , बिन पोंछे ढकेलते हुए , हमारे किसी भी ग्रुप में एडमिन को बताकर  खड़ी कर दें !

ईनाम की राशी मुंह मांगी होने की वजह से धूप में मुंह खोलें और मांगे ??

यदि कडाके की ठण्ड में  भी ” आप ” के मुंह से भाप न निकली तो  उस ग्रुप के एडमिन से डॉलर में रूपये ग्रहण करें  !

विजेता को फेसबुक के दस – बारह ग्रुप का एडमिन बनाया जायेगा और  नाम ” गुप्त ” रखा जायेगा ??

शुभरात्रि !

images (4)

आँखों में अरमान
दिया करते है ।
हम सब की नींद
चुरा लिया करते है ।
अब जब जब
आप की पलके झुकेगी ।
समझ लेना हम आपको
याद किया करते है ।

एडमिन से पंगा ?

CYmgpkRUQAIH1WK

अब ये अफवाह कौन उड़ा रहा है , कि एडमिन को भेजा जा रहा है , ताकि पांचवा वन-डे ” हम ” जीत जाएँ ???
इन्हीं शब्दों में ” आप ” से पूछ रहा हूँ ?
आज इंटर नेशनल हग – डे है ? क्या मतलब है , हग करके हरा दें ?
उड़ा लो जितनी उड़ाना है , लेकिन क्या वहां चौके – छक्के और उनकी विकेट उड़ा पाएंगे ?
एडमिन से क्या उम्मीद है कि वो सबको बेन कर दे ? ब्लाक कर दे ?
एक आखिरी बात जिसने फेसबुक पर अपनी खुद की उतार कर रखी है , वहां भी मैदान पर उतरवाओगे क्या  ?
फिर भी ” आप ” का जवाब नहीं आया तो , मैं जा रहा हूँ ? कल से ढूँढना मत ?
बाय – बाय ……हैप्पी जर्नी !!! शुभ रात्रि !

कहाँ हैं ” आप ” ?

images (8)

” कहाँ छुपे हैं आप ? ”

आज के ” युग ” में सबसे बड़ी शर्मिंदगी कब होती है ?
.
.
.
जब आपकी पत्नी , आपके ऑफिस में आकर किसी खूबसूरत बाला के सामने ” आपको ” आँखे निकाल कर पूछे कि कौन है ये ?
.
नहीं ? रे बाबा ??
.
.
.
फिर ???? शर्मिंदगी कब होती है ??
,.
.

.जब आपके पास एंड्रोईड मोबाइल तो है , लेकिन उसमे फेसबुक और व्हाट्सऐप नहीं है ??
. जब वाई-फाई का सिग्नल न आ रहा हो और आपके पास नेट बैलेंस भी न हो ?
और ” आपको ” कमेंट्स में कुछ लिखते आये या न आये , एक स्टीकर भी चिपकाना नहीं आता ?
हा हा हा , मुझे मालूम है , आपको बुरा नहीं लगता , फिर भी सॉरी !  भैया , इतनी ठण्ड है क्या  ? शुभ संध्या !

WordPress.com पर ब्लॉग.

Up ↑